Homeअन्तर्वासनाकॉलब्वॉय को क्लाइंट भाभी ने मजा दिया

कॉलब्वॉय को क्लाइंट भाभी ने मजा दिया

मैं कॉलबॉय हूं मुझे आंटियां भाभियाँ और अकेली रह रही लड़कियां या विधवा बुलाती हैं. मैं उन्हें खुश करने का काम करता हूं. लेकिन एक भाभी ने उलटा मुझे बहुत खुश किया मजा देकर!
हेलो, मेरा नाम विशाल सिंह है. मैं उत्तर प्रदेश कानपुर से हूं. मैं कट्टा कट्टा नौजवान हूं. मेरी उम्र 40 साल है, मेरे लंड का साइज 6 इंच है।
मैं एक कॉल बॉय हूं मुझे आंटियां भाभियाँ और अकेली रह रही लड़कियां या फिर कोई भी विधवा कॉल करके बुलाती हैं. मैं उन्हें खुश करने का काम करता हूं.
आज मैं आपके सामने एक ऐसा ही एक्सपीरियंस शेयर करने जा रहा हूं.
एक दिन मुझे एक ईमेल आया मैं एक भाभी का था.
उन्होंने मुझसे कहा- आप अपनी सर्विस कब और कैसे दे सकते हो? आप क्या क्या करते हो?
मैंने उनसे कहा- भाभी मैं सब कुछ करता हूं. मैं आपकी पूसी को सक् करूंगा आपकी ऐस को लिक् करूंगा और आपको बिल्कुल खा जाऊंगा. जैसे आप चाहो.
फिर उन्होंने मुझसे पूछा- आपको कितने पैसे देने होंगे एक रात के?
जो भी मेरा चार्ज था, मैंने उनको बता दिया.
उन्होंने हाँ ही कर दी और मुझे अपना पता बता कर एक दिन बताया कि उस दिन को रात को आ जाना.
कुछ समय बाद वह दिन भी आ गया और रात भी … मैंने सब तैयारियां कर ली थी, बस मुझे वहां जाना था.
उन्होंने मुझे अपने घर पर ही बुलाया था इसलिए मैं अच्छे से तैयार होकर उनके घर पर चला गया.
जब मैं गया तो देखा कि बहुत बड़ा घर था. उस घर में कोई नहीं था भाभी के सिवा!
फिर हमारी वार्तालाप हुई. उन्होंने मुझे बताया- मेरे हस्बैंड बाहर रहते हैं विदेश में … वे कभी कभी-कभार ही आते हैं.
जब भाभी मुझसे बात कर रही थी मैं सिर्फ उनकी होंठों की तरफ देख रहा था. क्या होंठ थे! मैं बस उन्हें देखता जा रहा था. मेरा मन कर रहा था कि मैं उन्हें चूस लूं.
मुझे वह होंठ मिलने वाले थे चूसने के लिए।
फिर भाभी ने हमारे लिए ड्रिंक बनाए अपने लिए भी और मेरे लिए भी!
हमने दो दो पैग लगाए. धीरे-धीरे हमें पेग का हल्का हल्का सुरूर होने लगा.
भाभी मेरे पास आकर बैठ गई, मेरी शर्ट के बटन खोलने लगी और मेरे बालों वाली छाती में अपना हाथ फिराने लगी. वह सीधे मेरे होंठों पर टूट पड़ी, मुझे किस करने लगी.
मैं भी भाभी की गर्मी देखकर अपने जोश में आ गया. मैंने भी सीधा उनको अपनी गोद में उठा लिया मेरा लंड धीरे धीरे अपनी पोजीशन में आने लगा और मैं उनको ऐसे ही गोद में उठाए उनके बालों को गर्दन पर से हटाकर किस करता जा रहा था.
उनके मुंह से आह निकल रही थी गर्दन में किस करते करते!
कुछ ही देर बाद हम दोनों ने एक दूसरे के कपड़े उतार दिए. अब भाभी मेरे सामने ब्रा और पेंटी में थी. गोरा बदन … उस पर काले रंग की ब्रा और पेंटी! मानो जैसे चांद पर कोई दाग सा लगा था.
बस मैं अब उस दाग हटाना चाहता था. मैंने जल्दी करके उनके बदन से उनकी ब्रा और पेंटी खोल दी. शायद उनके बूब्स 32″ के होंगे. और जो मैंने उसकी पैंटी निकाली तो वह 38″ की होगी.
ऐसा बदन मैंने पहली बार देखा था जिसमें लड़की के चूतड़ शेष जिस्म के मुकाबले काफी ज्यादा बड़े थे.
मेरा मन कर रहा था मैं इन भाभी को घोड़ी बनाकर आज खूब चोदूँ।
पर मैं जल्दबाजी करके माहौल को बिगाड़ना नहीं चाहता था.
मैंने धीरे-धीरे उनकी चूचियों पर किस करना शुरू किया, उनके मुंह से तेज तेज सिसकारियां निकलने लगी. फिर मैंने उनके निप्पलों को चूसना शुरू किया. फिर मैं भाभी के पेट पर चुम्बन करते-करते नीचे की तरफ जा रहा था. और चिकनी भाभी की चिकनी चूत पर पहुँच कर मैंने उनकी खूब चाटा.
जब मैं भाभी की चूत को चाट रहा था तो उनकी जांघें काम्प रही थी। जैसे मानो वह बरसों की प्यासी है.
फिर वह मुझसे कहने लगी- बस करो विशाल, अब आ जाओ, चोद दो मुझे।
मैंने अपना तना हुआ लंड भाभी की चूत पर सटा दिया और हल्के से धक्का लगाया. चूत गीली होने के कारण पूरा लंड उनकी चूत में चला गया. भाभी खुलकर मजा ले रही थी.
अब बस उन्हें मजा दिलाना बाकी था.
उन्होंने अपनी टांगों से मुझे जकड़ लिया था और अपने हाथों से मेरी कमर को और बस चाह रही थी कि मैं उन्हें छोड़ूँ ना।
बस मैं उन्हें ऐसे ही चोदता जा रहा था. लेकिन वह तो बहुत दिनों की प्यासी थी इसलिए वो झड़ने वाली थी और वह जल्दी मेरे कंधों को पकड़कर ऐसे ही झड़ गई. लेकिन मैं अभी झड़ा नहीं था. इसलिए मैंने उन्हें दबोचे रखा.
मैंने उन्हें फिर घोड़ी बनने के लिए कहा. वह घोड़ी बन गई. मैंने अपना लंड भाभी के चूतड़ों पर फिराया और फिर उनकी चूत में धकेल दिया. मुझे बहुत गुदगुदा लग रहा था, मजा आ रहा था.
मैं भाभी की नंगी कमर पर हाथ फिरा रहा था. लेकिन वो झड़ चुकी थी इसलिए उन्हें थोड़ा बहुत दर्द हो रहा था. लेकिन वह हा हा करते हुए मेरा साथ दे रही थी.
मैंने उनके कमर और पेट को पकड़कर अपने तरफ धक्के मार रहा था.
मुझे भी मज़ा आने वाला था, मैंने अपना लंड निकाल कर उनके चूतड़ों पर सारा वीर्य निकाल दिया.
फिर हम लोग लेट गए क्योंकि हम दोनों थोड़ा थक गए थे इसलिए थोड़ा आराम करने लगे.
लेकिन थोड़ी देर में भाभी फिर से चुदाई की भूखी सी हो गई और मेरा लंड पकड़कर चूसने लगी.
मैं भी धीरे-धीरे गर्म होने लगा और मेरे लंड ने उनके मुंह में ही अपना आकार ले लिया. वह भी घप घप करके चूसे जा रही थी और सारा लंड थूक से सन गया था. लेकिन मुझे मजा आ रहा था उनके मुंह की गर्मी मुझे पागल कर रही थी.
फिर उन्होंने मुझसे कहा- मैं तुम्हारा पानी पीना चाहती हूं. प्लीज बाबू, मुझे अपना पानी पिलाओ.
मैं बस उनके मुंह में धक्के लगा रहा था और उनके मुंह से थूक निकल कर मेरी जांघों पर और मेरे अंडों पर बह रहा था. लेकिन फिर भी वह अपने मुंह में ही धक्के लगवा रही थी. कभी मेरे अंडों को चूसती, कभी मेरे लंड पर किस करती!
मैं तो पागल सा हुआ जा रहा था. फिर मुझे धीरे ऐसे ही मजा आने वाला था. मैंने उनको बेड पर से नीचे बैठाया और खुद खड़ा हो गया और अपना लंड अपने हाथ में लेकर आगे पीछे करने लगा. मैंने उनको मुंह खोलने के लिए कहा. उन्होंने अपना मुंह खोल लिया. फिर मैंने सारा पानी उनके मुंह में गिरा दिया.
कुछ माल भाभी के होंठों पर गिरा, कुछ चेहरे पर! और वे सारा वीर्य इधर उधर से साफ कर कर पी गई.
हम कुछ देर फिर आराम करने के लिए बैठ गए. दो-तीन घंटे बाद भाभी ने मुझसे फिर से कहा- चलो फिर करते हैं.
फिर मैंने उन्हें अपने ऊपर राइडिंग करने के लिए कहा. तो वह मेरे ऊपर आकर बैठ गई. उनकी चूची ठीक मेरे मुंह के सामने थी. मैं उन्हें दबा कर चूसने लगा. उनकी नंगी कमर को पकड़ कर उनके चूचे मुंह में लेकर मैं नीचे से धक्के लगा रहा था और भाभी ऊपर से भाभी हो या हो या करती हुई बहुत मजे ले रही थी.
फिर हम 69 की पोजीशन में आ गए. मैं उनकी चूत चाट रहा था और वह मेरा लंड! हम दोनों ही जैसे वर्षों के प्यासे एक दूसरे को खा जाना चाहते थे. कमरे में बस हमारी ही मादक सिसकारियां गूंज रही थी.
भाभी की चूत से खुशबूदार लावा निकलकर जांघों की तरफ बह रहा था. इस पोजीशन में कम से कम हमने 15-20 मिनट किया.
फिर मैंने भाभी को उल्टी लेटा दिया. अब मैं उनके गुदगुदे चूतड़ों का मजा लेना चाहता था. मैंने उनको सीधी लिटा कर उनके चूतड़ों पर लंड सटा और उनकी चूत में अपना लंड उतार दिया.
मेरी जांघें उनके चूतड़ों से टकरा रही थी, बहुत मजा आ रहा था।
मैं बस धक्के पर धक्के लगाए जा रहा था.
कुछ देर इसी तरह चोदने के बाद मैंने उन्हें सीधा लेटा दिया. उनके सारे जिस्म की कोली भर कर मैंने अपना लंड भाभी की चूत में डाल कर उन्हें जी भर कर चोदने लगा. अबकी बार मैं उनके साथ एक साथ झड़ना चाहता था. भाभी भी खुलकर मेरा साथ दे रही थी. उनके बाल खुल चुके थे.
मैंने उनके बालों को सीधा पीछे की तरफ कर दिया. मुझे ऐसा लग रहा था जैसे मैं किसी आज परी को चोद रहा हूं. गोरा बदन, काले बाल, माथे पर सिंदूर लगा था. वाओ … बहुत मजा आ रहा था उन्हें चोदने में!
मैंने उन्हें जी भर कर चोदा, उनकी वासना को शांत किया. वह और मैं फिर एक साथ झड़ गए. उन्होंने अपनी टांगों से फिर से एक बार मेरी कोली भर ली थी और मेरा नाम लेकर झड़ गई.
फिर मैंने ऐसे ही सुबह तक कई बार भाभी को चोदा. उन्होंने मेरे साथ खुलकर एंजॉय किया.
एक बार तो बीच में उन्होंने सिर्फ मुझे मुंह से ही मजा दिया. मुझे भाभी बहुत पसंद आई.
मैं एक कॉलबॉय हूं. मुझे आज तक ऐसी क्लाइंट नहीं मिली थी. सब भाभियाँ, आंटियां मुझसे ही सर्विस लेती थी लेकिन कोई मेरे लिए कुछ नहीं करती थी.
लेकिन इन भाभी की बात कुछ अलग थी इसलिए एक्सपीरियंस मैंने आप लोगों के सामने शेयर किया.
मुझे आज भी उन भाभी की बहुत याद आती है. वह मुझे बुलाती है तो मैं महीने में दो-तीन बार उनके पास जाता रहता हूं.
आपको मेरी यह कहानी कैसी लगी, कृपया मुझे जरूर बताइएगा.
मेरी ईमेल आईडी है

वीडियो शेयर करें
behan bhai ki chudai kahanichut chatna pichot sexy hindi storybhabhi ko sote hue chodasexy ladki nangiक्सक्सक्स बफdesi girl xossipsex pron indiansex hindi sex storyshriya sex storiessex stories wifebhabhi ki hot chudaidesi sex story by girllatest sexyindian super sexhindi sexi kahaniysexy desi auntyoh free sexराज़hinde sexy story comhindi pornhindi sex stryindian desi sexschool girl sexhindi manohar kahaniyaसेक्स स्कूलhow to ass fuckindian old xxxhindi pronbhai bahan ki sex story in hinditeacher student sex storybehan ko choda storysunny leone sex story hinditeacher aur student ki chudaijeeja sali sexbest erotic sex storiessex potnsexy hindi new storychudai kahaniya hindi maisexy khaneyashit pornladkiyo ki nangi photohot new indian seximdiansexstoriessex ki kahani newgandi sexy storyhot open girlanteravasnaforeplay storiessexy real storyindian hot wifessxe story hindibhosda chodasexi story hindi newdidi ne lund chusahot sexy girls fuckingodiya sexy storyantarvasna hhindi pussynangi pussymoms xxx sexsexy story bhai bhanbest sex desihindi sexy kahani hindi maisex stories freeincest indian sex storiesdasi sex storiesporna sexdidi ki antarvasnasex in a busbehan ko choda storychut ki chudai hindi storysax stori in hindihindi sex stoerinew desi sexy